American serial killer John Wayne Gacy who known as Killer Clown – John Wayne Gacy: एक अमेरिकन सीरियल किलर जिसे कहा गया किलर क्लाउन, घर से बरामद हुए थे 29 शव

दुनिया के आपराधिक इतिहास में सीरियल किलिंग की कई घटनाओं ने लोगों को डराया है। इन किलिंग को अंजाम देने वाले सीरियल किलर भी कम खूंखार नहीं होते थे, कुछ तो ऐसे भी रहे जिन्होंने हैवानियत की सारी सीमाएं लांघ दी। इसी में एक नाम कुख्यात सीरियल किलर जॉन वेन गेसी का था। जॉन वेन गेसी ने अपने अधिकतर अपराधों को जोकर के भेष में अंजाम दिया, इसलिए उसे किलर क्लाउन का नाम भी दिया गया था।

अमेरिका के शिकागो शहर में 17 मार्च, 1942 को जन्में जॉन वेन गेसी का बचपन काफी प्रताड़ना में गुजरा गुजरा था। जॉन के पिता गुस्सैल होने के साथ-साथ नशे के आदी भी थे। जो अक्सर नशे की हालत में घर में झगड़ा व मारपीट करते रहते थे। इन हालातों के बीच जॉन बड़ा हुआ तो उसे जल्द ही मानसिक अवसाद ने घेर लिया। इस समस्या से वह कभी नहीं निकल पाया और फिर उसने डिप्रेशन के चलते लोगों को मारना शुरू कर दिया।

जॉन वेन गेसी ने सन् 1968 से 1978 तक करीब 33 लोगों को मौत के घाट उतारने का आरोप था। इनमें अधिकतर बच्चे और युवक थे, जिन्हें यौन प्रताड़ना के बाद मार डाला गया था। 70 के दशक में जॉन ने शिकागो शहर को अपने आतंक से भर दिया था। जॉन गेसी अक्सर शहरों में होने वाली परेडो में जोकर बना करता था और वारदातों को अंजाम देता था। साल 1968 में, जॉन वेन गेशी को एक लड़के के यौन उत्पीड़न के लिए दोषी ठहराया गया था।

इसके बाद जॉन को आयोवा स्टेट मेन्स रिफॉर्मेटरी (एनामोसा स्टेट पेनिटेंटरी) में भेज दिया गया, जहां वह करीब 2 सालों तक मनोवैज्ञानिक चिकित्सकों के बीच रहा। साल 1970 में पैरोल पर रिहाई के बाद फिर से एक यौन उत्पीड़न के मामले में उसे गिरफ्तार किया गया था, लेकिन बाद में आरोप हटा दिए गए थे। साल 1978 में, गेसी के बारे में खुलासा तब हुआ जब उसके पड़ोस में रहने वाला रॉबर्ट पिएस्ट नाम का युवक लापता हो गया, जिसे आखिरी बार गेसी ने देखा था।

पुलिस ने तलाशी वारंट लेकर जब जॉन गेसी के घर की तलाशी ली तो उसके घर से 29 लड़कों के शव बरामद किए गए। जबकि चार अन्य शव घर के पास से बहने वाली डेस प्लेन्स नदी में पाए गए। पुलिस ने सीरियल किलर जॉन वेन गेसी को 1978 को गिरफ्तार कर लिया। उस पर 33 हत्याओं के आरोप में केस चला और फिर जॉन वेन गेसी को 10 मई, 1994 को इलिनोइस में घातक इंजेक्शन देकर मौत दे दी गई थी।



Reference-www.jansatta.com

Add a Comment

Your email address will not be published.