Rezso Seress Gloomy Sunday infamously known as Hungarian Suicide Song – Gloomy Sunday: वो गाना जो लोगों को मौत के रास्ते पर ले जाता था, हो गया था बैन; कंपोजर ने भी कर ली थी खुदकुशी

अक्सर जब हम अपने जीवन में उलझे और बेचैन रहते हैं तो हमारे करीबी, दोस्त कहते हैं कि संगीत सुनिए मन हल्का हो जाएगा। हालांकि, आज बात उस गाने की जो लोगों को मौत की तरफ धकेल देता था। दरअसल, हंगरी के एक गीतकार ने ग्लूमी संडे नाम का गाना लिखा। पहले तो कई लोगों ने इसे रिकॉर्ड करने से मना कर दिया लेकिन जब यह गाना रिलीज हुआ तो लोगों ने इसे सुनकर आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया।

हंगरी में साल 1933 में एक गीतकार रेजसो सेरेस ने ग्लूमी संडे नाम का एक गाना लिखा। यह गाना ऐसा था जिसके कारण लोगों ने आत्महत्या करनी शुरू कर दी। हालांकि, इस बारे में कई बातें हैं जिनमें कहा गया कि सेरेस ने यह संगीत अपनी प्रेमिका के छोड़कर जाने के बाद लिखा था तो कई ने कयास लगाए कि इसे युद्ध की विभीषिका पर लिखा गया। गाने के बोल और संगीत ऐसा था जो लोगों में दर्द और दुःख पैदा कर देता था, ऐसे में इसे ‘हंगेरियन सुसाइड सॉन्ग’ भी कहा गया।

शुरुआत में गाने को कई प्रोड्यूसर्स ने रिकॉर्ड करने से मना कर दिया था। उनका मानना था कि ये गाना बड़ा ही अवसादयुक्त है। हालांकि, दो साल से ज्यादा समय के बाद 1933 में यह गाना रिकॉर्ड और रिलीज किया गया। गाने के प्रसारित होने के थोड़े दिनों के बाद ही देश में आत्महत्या का मामले तेजी से बढ़ने लगे। कई लोगों ने अपने सुसाइड नोट में इस गाने का उल्लेख भी किया। टाइम मैगजीन के मुताबिक, उस वक्त ग्लूमी संडे के चलते करीब 17 लोगों ने खुदकुशी की थी।

इस गाने की चर्चा ऐसे बढ़ी कि इसे अंग्रेजी में अनुवाद किया गया, जिसे मशहूर जैज सिंगर बिली हॉलीडे ने गाया था। खुदकुशी की घटनाएं रोकने के लिए इस गाने को दोबारा से कंपोज किया गया। लेकिन आत्महत्या के मामलों में कमी न आने के चलते इसे साल 1941 में इस गाने को बैन कर दिया गया। मगर साल 2003 में इस गाने से बैन हटा लिया गया। हैरानी वाली बात तो यह भी थी कि रेजसो सेरेस ने भी जनवरी 1968 में बुडापेस्ट में आत्महत्या कर ली थी।

सेरेस पहले अपार्टमेंट की खिड़की से कूदे थे लेकिन उन्हें बचाकर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। फिर बाद में अस्पताल में सेरेस ने तार से अपना गला घोंटकर खुदकुशी कर ली थी। इस गाने से होने वाली पहली मौत बर्लिन में हुई थी, जिसमें एक लड़की ने आत्महत्या का कदम उठाया था। हालांकि, आज तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि गाने में ऐसा क्या था जिसे लोग सुनने के बाद आत्महत्या कर लिया करते थे।



Reference-www.jansatta.com

Add a Comment

Your email address will not be published.