China serial killer Yang Xinhai who was also called Monster – Yang Xinhai: चीन का सबसे दुर्दांत सीरियल किलर जो नोट बुक में लिखता था मर्डर की कहानियां

दुनिया के अलग-अलग देशों में सीरियल किलिंग की घटनाएं देखने को मिली हैं। कुछ इतनी वीभत्स रही कि पूरे विश्व में इनकी चर्चा हुई लेकिन इन घटनाओं के पीछे किसी न किसी शख्स का हाथ होता है। चीन में एक दुर्दांत सीरियल किलर हुआ, जिसका नाम यांग शिन्हाई था। लोग उसे नोटबुक किलर के नाम से भी जानते थे, क्योंकि वह नोटबुक में मर्डर की कहानियां लिखता था। यांग को 67 हत्याओं और 26 अलग-अलग हत्याओं में 23 बलात्कार करने का दोषी पाया गया था।

यांग शिन्हाई का जन्म 29 जुलाई 1968 को चीन के हेनान प्रांत के झेंगयांग काउंटी में हुआ था। यांग के परिवार की माली हालत अच्छी नहीं थी और वह अपने भाई-बहनों में सबसे छोटा था। शुरुआत में कम बोलने वाला यांग पढ़ाई में अच्छा था, लेकिन 17 साल की उम्र में स्कूल छूट गया। रोजगार की तलाश में काफी दिन भटका और फिर वह दिहाड़ी मजदूर बन गया। चीन में उन दिनों मजदूर शिविरों का चलन था और यहीं यांग की किस्मत पलटी मार गई, जब साल 1988 में उसे चोरी के लिए सजा सुनाई गई।

कुछ दिनों बाद जेल से छूटा तो फिर से अलग-अलग जगहों पर काम किया और 1991 में चोरी और 1996 में हेनान में एक रेप के प्रयास में पांच साल के लिए जेल गया। साल 2000 की शुरुआत में रिहा होने के बाद उसने अपनी प्रवृत्ति घातक बना ली और फिर हत्याओं का दौर शुरू किया। 19 सितंबर 2000 की रात को पुलिस ने गश्त के दौरान शहर में दो लड़कियों को मृत पाया। पोस्टमॉर्टम से पता चला कि पीड़िता के साथ रेप किया गया और चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी गई।

इस घटना के कुछ हफ्तों बाद दो से तीन हत्याएं हुईं और उन्हें सबूत के रूप में एक फिंगरप्रिंट मिला। यांग हत्या करने में मशगूल रहा, लेकिन उसे पकड़ा नहीं जा सका। साल 2003 में पुलिस हेबेई इलाके में रूटीन चेकिंग के लिए घरों में जा रही थी, इसी दौरान उन्हें यांग दिखा; जिसकी हरकतें संदिग्ध नजर आ रही थी। पूछताछ में वह पुलिस के सवालों का संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। पुलिस ने उसे हिरासत में लिया और डाटा कलेक्ट किया। तभी उसका फिंगरप्रिंट डाटा बेस में मैच कर गया।

पुलिस ने उसके खिलाफ पांच हत्याओं और दो रेप के मामलों में केस दर्ज किया। लेकिन यांग शिन्हाई ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया कि उसने करीब 67 हत्याएं की हैं और कई महिलाओं के साथ रेप किया है। उन सबके बारे में उसने एक नोटबुक में विस्तृत तरीके से लिखा भी था। यांग ने अपने कबूलनामें में भले ही यह कहा था कि उसे समाज से नफरत थी और उसे लोगों को मारने में मजा आता था, लेकिन उसके पीछे प्रेमिका से ब्रेकअप भी एक कारण था।

हालांकि, इस सीरियल किलर को फरवरी, 2004 को लुओहे सिटी इंटरमीडिएट पीपुल्स कोर्ट, हेनान द्वारा 67 लोगों की हत्याओं और 25 महिलाओं के बलात्कार के मामले में दोषी ठहराते हुई मौत की सजा सुनाई गई थी। फिर उसे फायरिंग दस्ते ने उसे गोली मार दी थी।



Reference-www.jansatta.com

Add a Comment

Your email address will not be published.