UK lawmaker from Boris Johnson’s Conservative party suspended over porn in parliament case -ब्रिटेनः बोरिस जॉनसन की पार्टी के सांसद ने मानी सदन में पॉर्न देखने की बात, देना पड़ा इस्तीफा

ब्रिटेन के पीएम बोरिस जानसन की कंजरवेटिव पार्टी ने अपने उस सांसद को सस्पेंड कर दिया है जिसने संसद में सत्र के दौरान फोन पर पॉर्न फिल्म देखने की बात कबूल की थी। नेल पेरिश 2010 से सांसद हैं। कंजरवेटिव पार्टी के प्रवक्ता ने बताया कि पेरिश ने खुद ही माना था कि संसद की कार्यवाही के दौरान वो पॉर्न फिल्म देख रहे थे। प्रवक्ता का कहना है कि ये अनुशासन हीनता का मामला है। इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते।

उधर, सांसद ने पूरे मामले पर कोई टिप्पणी करने से इन्कार कर दिया है। उनका कहना है कि वो जांच में सहयोग करेंगे। बकौल पेरिश वो समझ सकते हैं कि दूसरे लोगों को किस तरह की आपत्ति है। वो केवल माफी ही मांग सकते हैं। उनके इस काम से दूसरे लोगों को परेशानी हुई खासकर महिलाओं को।

ब्रिटेन की संसद में सदन की कार्रवाई के दौरान पॉर्न देखने का मामले में बोरिस जॉनसन ने कहा कि काम करने की किसी भी जगह पर पॉर्न फिल्म देखना बिलकुल अस्वीकार्य है। दरअसल पत्रकारों ने बोरिस जॉनसन से पूछा था कि संसद की कार्रवाई के दौरान सांसद द्वारा अपने फोन में पॉर्न देखने की खबर पर आपका क्या कहना है? इसके जवाब में बोरिस जॉनसन ने कहा- जाहिर तौर पर कोई भी शख्स काम करने की जगह पर इस तरह की हरकत करता है तो वो बिलकुल अस्वीकार्य है।

उधर, ब्रिटेन की मंत्री एन-मरी ट्रेवेलियन के मुताबिक संसद में काम करने वाली सभी महिलाओं को गलत तरीके छूने या सेक्सिस्ट भाषा का सामना करना पड़ता है। ट्रेवेलियन ने कहा कि कुछ पुरुष सासंदों को लगता है कि वो महिलाओं के लिए भगवान का तोहफा हैं और वे अचानक खुद को खुश कर सकते हैं। ट्रेविलियन कहा, “मुझे लगता है कि हम सभी महिलाओं को संसद में गलत भाषा और भटकते हाथों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि अपने हाथ अपनी जेब में रखिए और ऐसे व्यवहार कीजिए जैसे कि कमरे में आपकी बेटी मौजूद हो।

गौरतलब है कि ब्रिटेन के पीएम पर भी लॉकडाउन के दौरान पार्टी करने का आरोप है। बॉरिस जॉनसन ने कहा था कि वो जानबूझूकर पार्टी में शामिल नहीं हुए थे। ब्रिटेन की संसद अब बोरिस जॉनसन के इसी दलील की जांच कर रही है कि वो सच बोल रहे हैं या नहीं। बोरिस जॉनसन पर लॉकडाउन के नियम तोड़ने को लेकर जुर्माना भी लग चुका है।



Reference-www.jansatta.com

Add a Comment

Your email address will not be published.